दालचीनी के 14 फायदे | KNOW 14 HEALTH BENEFITS OF CINNAMON WHICH YOU MIGHT BE NOT KNOWING ABOUT - HEALTH CORNER FOR ALL

Health, Beauty Tips, Fitness, Weight Loss, Ayurveda, Yoga, Overall Health....

Sunday, August 05, 2018

दालचीनी के 14 फायदे | KNOW 14 HEALTH BENEFITS OF CINNAMON WHICH YOU MIGHT BE NOT KNOWING ABOUT



आज Ayurveda के Spices segment में हम जानेगें,Cinnamon या दालचीनी 
के health benefits के बारे में-

"दालचीनी के 14 फायदे | KNOW 14 HEALTH BENEFITS OF 
CINNAMON WHICH YOU MIGHT BE NOT KNOWING ABOUT 

Cinnamon या दालचीनी हर घर की रसोई में मिलने वाला वो मसाला है,जो
 कि पूरे विश्व में सबसे ज़्यादा प्रयोग किया जाता है

14  HEALTH BENEFITS OF CINNAMON,CINNAMON
14  HEALTH BENEFITS OF CINNAMON


वैसे तो ये अपनी सुगंध /aroma के कारण bakery और desserts में वर्षों से प्रयोग
किया जाता रहा है और भारत में गरम मसाले में इस्तेमाल किये जाने वाले मसालों में भी ये एक महत्वपूर्ण मसाला है। 

परन्तु अपने चिकित्सीय गुणों के कारण हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी ये अपना विशेष महत्व रखता है 

कई वैज्ञानिक शोधों ने भी Cinnamon या 
दालचीनी के health benefits पर 
अपनी मुहर लगायी है। 

चलिए देख लेते हैं -"14 Health Benefits Of  Cinnamon"



दालचीनी के बारे में कुछ मूलभूत जानकारियाँ /Basic Information About Cinnamon:



Scientific Name:
Cinnamomum


Family: Lauraceae  

Genus: Cinnamomum 

Species: 
C.cassia, C.verum,
C.citriodorum, C.burmannii.
C.tamale etc.  
                                        
Part Used as Food: 

Bark (सूखी पत्तियां और छालजो कि 
भूरे रंग होती है उनका प्रयोग किया जाता है मसाले के तौर पर। 



दालचीनी में पाए जाने वाले पोषक तत्व/ NUTRITIONAL VALUE OF CINNAMON:


U.S. Department of Agriculture (USDA), के अनुसार एक चमच्च पिसी हुई 
दालचीनी जिसका वजन करीब 2.6Gm हो उसमे पाए जाने वाली nutritional
value कुछ इस प्रकार है :-  

Energy: 6 calories (kcal)
Fat: 0.3 g
Carbohydrates: 2.1 g
Protein: 0.1 g
Calcium: 26 milligrams (mg)
Iron: 0.2 mg
Magnesium: 2 mg
Phosphorus: 2 mg
Potassium: 11 mg
Vitamin C: 0.1 mg
Vitamin A: 8 IU

Cinnamon 
में मुख्यतः vitaloils पाए जाते हैं और अन्य 
compounds भी 
पाए जाते हैं जिनमें मुख्यतः Cinnamaldehyde, Cinnamic acidऔर 
Cinnamate आदि शामिल हैं ।

ज्यादातर लोग दालचीनी के Weight loss में सहायक होने की बात से ही
परिचित होंगें।

पर आपको बता दें कि Cinnamon के कई अन्य महत्वपुर्ण गुण हैं, जो हमारे 
शरीर को स्वस्थ रखने में काफी अहम भूमिका निभाते हैं। 


जी हाँ, शायद कम लोग ही जानतें हों पर Cinnamon या दालचीनी बहुत ही 

अच्छी -
Antioxidant, 
Anti-inflammatory,
Anti-diabetic, 
Anti-microbial, 
Anticancer,  
Lipid-lowering  and 
Cardiovascular-disease lowering compound है ।

साथ ही साथ ये कई तरह के Neurological disorders, जैसे कि Parkinson's and
Alzheimer's diseases से लड़ने में भी मदद करती हैं।

इन सभी गुणों के कारण Cinnamon या दालचीनी का प्रयोग करके,शरीर को विभिन्न बिमारियों से बचाने में मदद मिल सकती है।

इसलिए जरुरी है कि हम इसके फायदों के बारे में जानकार इनका लाभ उठायें। 


1.मधुमेह को नियंत्रित करती है दालचीनी (CINNAMON FOR    DIABETES CONTROL IN HINDI):


दालचीनी diabetes को नियंत्रित करने में बहुत ही कारगर होती है।ये diabetes patients को स्वस्थ और चुस्त रखने में काफी सहायक पायी जाती है। 

Cinnamon या दालचीनीप्रकार से मधुमेह रोगियों पर अपना सकरात्मक प्रभाव दिखाती है :

i) एक तरफ यह शरीर में शर्करा के स्तर को 
    कम करने में मदद करती है। 

ii) दूसरी तरफ ये हमारे शरीर को Insulin 
     के प्रति अधिक संवेदनशील बनाती है। 

दालचीनी में कई polyphenols पाए जाते हैं और इसमें 'insulin-potentiating factor' भी पाया जाता है, जो इसके Anti-diabetic effect को बढ़ाने का काम करता है।

दालचीनी में Methylhydroxychalcone polymer (MHCP) मिलता है जो कि 
glucose के oxidation में सहयता करता है और शरीर में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित रखता है। 
  
Type -2 diabetes में यदि मरीज़ नियमित रूप से दालचीनी का सेवन करते हैं तो, उनमे शर्करा का स्तर कम देखने को मिलता है। 

इसका लाभ पाने के लिए मधुमेह के रोगी रोज़ एक चम्मच दालचीनी का प्रयोग किसी भी रूप में कर सकते हैं चाहे -

इसके पाउडर को खाने में मिलाकर खा 
  सकते हैं 

* या फिर रोज़ गुनगुने पानी में मिलाकर 
   पी लें  

* अन्यथा दूध में मिलाकर दालचीनी का
   सेवन करें 



2. ह्रदय रोगों को नियंत्रित करती है  दालचीनी  (CINNAMON IS     GOOD FOR HEART HEALTH IN HINDI):



HEALTH BENEFITS OF CINNAMON FOR HEART
HEALTH BENEFITS OF CINNAMON FOR HEART


आज के समय में heart diseases को No.1 silent killer के रूप में जाना जाता है। हम अपने खान-पान पर ध्यान देकर काफी हद तक ह्रदय रोगों से अपना बचाव कर सकते हैं 

Cinnamon या दालचीनी में बहुत से ऐसे components पाए जाते हैं जो हमारे हृदय को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं



इसमें Cinnamic aldehyde and Cinnamic acid नामक दो components पाए जाते हैं, जो हृदय को myocardial ischemia से बचाने में सहायक पाये गए हैं।

साथ ही साथ दालचीनी में Cinnamophilin 
नाम का lignan भी पाया जाता है जो कि, thromboxane A2 receptor को बाधित करके हमे,vascular diseases 
and atherosclerosis/ धमनियों के 
सख़्त होने के खतरे से बचाने में मदद करता है। 

Cinnamon या  दालचीनी hypertension 
के रोगियों में ब्लड-प्रेशर को कम करने में भी अहम भूमिका निभाती है।

यह एक hypotensive agent के रूप में 
कार्य करती है। 



3.कैंसर से बचाव करती है दालचीनी (CINNAMON FOR PREVENTING CANCER IN HINDI):



आज भी Cancer उन बिमारियों में से एक है, जिसका नाम सुनकर ही हर किसी के मन में डर का एहसास जन्म ले लेता है। 

पर क्या आप जानते हैं कि scientific researches में यह बात सामने आयी है कि Cinnamon या दालचीनी में पाए जाने वाले योगिक (Cinnamic-aldehyde
कैंसर से बचाव में मदद कर एक
Anticancer Agent के तौर पर अपनी जगह बनाता है। 

खासतौर पर Colon Cancer पर इसके सकरात्मक प्रभाव पर कई शोध मौजूद हैं। 

जिन लोगों में cancer की शुरुवात हो चुकी 
हो,उनमें भी यह उसके लक्षणों को बढ़ने से रोकने में और सुधार लेने में समर्थ पायी गयी  है। 


4.इन्फेक्शन्स (सर्दी -ज़ुखाम) से  बचाव करती है दालचीनी (CINNAMON FOR FIGHTING THE INFECTIONS IN HINDI):


HEALTH BENEFITS OF CINNAMON AGAINST INFECTIONS
HEALTH BENEFITS OF CINNAMON -FIGHT AGAINST INFECTIONS


दालचीनी हमारी immunity को बढ़ाने का काम करती है और हमें infections 
से बचाने में भी मदद करती है। 

Cinnamon oil 
कई Bacterial और Fungal Infections से बचाव करने में 

काफी असरदार पाया गया है। 

Cinnamaldehyde 
नामक compound कई तरह के bacteria से शरीर की 

रक्षा करने में भूमिका निभाता है। यह विशेष तौर पर (Listeria,Bacillus, 
Staphylococcus,Salmonella,Pseudomonas, E. coli) आदि bacteriaऔर (Candida,Saccharomyces ) आदि yeast से रक्षा करता है। 

गले में खराश की स्तिथि में दालचीनी को पानी में भिगोकर रखें इससे 

दालचीनी का पानी तैयार हो जायेगा जिसमे Mucilage होगा जो कि पानी में घुलनशील फाइबर /water soluble fiber होता है। इस पानी को पीने से गले में एक परत जैसे बन जाती है जो खराश में आराम देती है। 


5. सूजन को कम करती है दालचीनी  (CINNAMON FOR REDUCING      INFLAMMATION  IN HINDI):




दालचीनी के 14 फायदे | KNOW 14 HEALTH BENEFITS OF CINNAMON WHICH YOU MIGHT BE NOT KNOWING ABOUT



शरीर की और जोड़ों की सूजन को दूर करने में Cinnamon या दालचीनी का अपना विशेष महत्व है।

इसके नियमित सेवन से जोड़ों के दर्द में विशेष राहत मिलती है। यह जोड़ों और मांसपेशियों की जकड़न को भी कम करती है। 

शहद और दालचीनी को मिलाकर खाने से धीरे-धीरे सूजन / inflammation में आराम मिलता है। 



6. वजन घटाने में मदद करती है  दालचीनी (CINNAMON FOR  WEIGHT   
  LOSS 
IN HINDI):


यदि आप वजन कम करना चाह रहे है तो दालचीनी आपके लिए बहुत काम की चीज़ है। 

यह शरीर में sugar के लेवल को नियंत्रित रखकर हमारी भूख़ को भी नियंत्रित 
रखता है  

प्रतिदिन गरम पानी में शहद के साथ दालचीनी का सेवन आपकी चर्बी को घटाने और weight loss करने में बहुत ही प्रभावी है। 


7.कोलेस्ट्रॉल और वसा को कम करने  में मददगार है दालचीनी
 
(CINNAMON FOR LOWERING CHOLESTEROL LIPIDS    LEVEL IN HINDI) : 


Cinnamon या दालचीनी शरीर में Cholesterol और LDL और triglyceride 
के स्तर को भी नियंत्रित रखती है।  

प्रतिदिन यदि 6gm तक दालचीनी का सेवन किया जाये तो cholesterol का 
स्तर काफी तेज़ी से सामन्य होता जाता है। 

इस प्रकार से ये हृदय  रोगों के खतरे को भी कम करती है। 


  

8. सीखने की क्षमता को बढाती है। दालचीनी (CINNAMON FOR     IMPROVED LEARNING POTENTIAlL IN HINDI):


जी हाँ, Cinnamon या दालचीनी हमारे brain की कार्यकुशलता बढ़ाने और 

सीखने की क्षमता में सहायक होती है। 

Association for Chemoreception Sciences, 
की सन 2004 की बैठक में 

प्रस्तुत की गयी शोध में यह बात सामने आयी है कि, दालचीनी को सूँघने
के बाद ध्यान प्रक्रियाओं (attentional processes), virtual recognition 
memory, working memory, and visual-motor response speed से 
संबंधित कार्यों के स्कोर में सुधार पाया जाता  है।


9. जवान रखने में सहायक है दालचीनी   (CINNAMON FOR ANTIAGEING    IN HINDI): 


जैसा कि हम जानते हैं Anti -Oxidants हमारे शरीर को तनाव और प्रदूषण

के कारण बनने वाले free -radicles के दुष्प्रभाव से बचाने में अहम् भूमिका 
रखते हैं। 

Cinnamon 
 में पाए जाने वाले polyphenols,Cinnamic-aldehyde 
प्रभावशाली anti-oxidant के रूप में कार्य करते हैं। 

फलस्वरूप यह शरीर को free-radicles से होने वाली हानि से बचाकर 

Anti -Aging में help करते हैं। 



10.अल्जाइमर बीमारी से बचाव करती है दालचीनी  (CINNAMON FOR       PREVENTING ALZHEIMER'S  DISEASE IN HINDI):



आज के समय में Alzheimer's disease के मरीज़ों की संख्या में बढ़त देखने को मिलने लगी है।

जिसमे कि मरीज़ को भूलने की बिमारी हो जाती है और निर्यण लेने की क्षमता में भी कमी आ जाती है।

Cinnamon 
या दालचीनी में मिलने वाले 
compounds Alzheimer Disease 
के लक्षणों को रोकने में मददगार पाये गये हैं। 

देखा गया है कि  C. zeylanicum के extract में पाए जाने वाले योगिक 

tau aggregation and filament formation,को रोकने में सहायता करते हैं, 
जो कि Alzheimer's disease के 2 मुख्य लक्षण होते हैं। 



11.पार्किंसंस बिमारी से बचाव करती है दालचीनी (CINNAMMON      PREVENTS PARKINSON'S  DISEASE IN HINDI):


Parkinsons disease ,Alzheimers disease के बाद पूरे विश्व में सबसे 
ज़्यादा पाए जाने वाला neurodegenerative disorder है। 

वैज्ञानिक अध्ययनों में ये पाया  गया  है Cinnamon 
और उसके metabolite 
sodium benzoate शरीर में neurotropicfactors और neurotrophin-3 के 
निर्माण को नियंत्रित करने मदद करता है ।

जो कि, neuroprotective proteins होते हैं। 

ये neuroprotective proteins कोशिकाओं को oxidative stress से होने वाले नुक्सान से बचाने मे मदद करते हैं। इस प्रकार ये Parkinson's disease के

लक्षणों में सुधार लाता है।   




12. त्वचा के लिए लाभकारी है  दालचीनी (CINNAMON FOR        SKIN HEALTH IN HINDI):



Cinnamon या दालचीनी हमारी त्वचा की सेहत के लिए भी बहुत ही अच्छी मानी जाती है। 

त्वचा की खुजली, दानेदाग-धब्बों को दूर करने के लिए दालचीनी को शहद के साथ मिलाकर paste तैयार करें और उस स्थान पर लगा लें जहाँ पर ऐसी परेशानी हो। 

आप देखेंगें कि यह दालचीनी का paste आपको त्वचा की इन परेशानियों से राहत दिलाने में कारगर सिद्ध होगा। 



13. मुँह की दुर्गन्ध दूर करती है  दालचीनी (CINNAMON     CONTROLS BAD BREATH OR HALITOSIS IN HINDI):



यदि आप मुंह की दुर्गंध/bad breath से परेशान हैं ,तो इस समस्या का

समाधान भी देती है दालचीनी। 

जी हाँ,जिन लोगों के मुंह से बदबू  आती है उनमें कई  प्रकार के बैक्टीरिया 
पाए जाते हैं। 

जैसा की हमने ऊपर बताया कि दालचीनी कई प्रकार के बैक्टीरिया से लड़ने 
में मदद करती है। 

तो यदि  ऐसे  मरीज दालचीनी का पानी बनाकर बोतल में भरकर रख लें 
और सुबह शाम दो बार उससे कुल्ला करें तो उनमें मुंह की बदबू की समस्या 
से काफी हद तक आराम देखने को मिलता है।

14.पेट की परेशानियों को दूर करती  है दालचीनी (CINNAMON HELPS      IN GASTRO - INTESTINAL  PROBLEMS IN HINDI):


Germany's Commission E ने Cinnamon या दालचीनी को पेट सम्बंधित परेशानियों में प्रयोग में लाने के लिए मंजूरी दे रखी है। 

निम्नलिखित समस्याओं में इसकी उपयोगिता सिद्ध होती है :

  • भूख न लगना 
  • अपच 
  • पेट - फूलना 
  • एसिडिटी 
  • गैस की समस्या  आदि

भारत, अमेरिका, जर्मनी आदि सभी देशों में दालचीनी का प्रयोग पारम्परिक
रूप से किया जाता रहा है इन पेट सम्बंधित परेशानियों निज़ात पाने के लिए।   

तो देखा अापने Cinnamon या दालचीनी के अनेक फायदे हैं, हमारे शरीर के लिएपरन्तु ज्यादा तर लोग इसको वजन कम करने या फिर सर्दी-जुखाम 
को दूर करने के लिए ही प्रयोग करते हैं। 


तो आशा करते हैं कि हर घर की रसोई में आसानी से मिलने वाले इस मसाले 
दालचीनी के गुणों व् अन्य महत्वपूर्ण लाभों को आप जान गए होंगें-

"दालचीनी के 14 फायदे | KNOW 14 HEALTH BENEFITS OF 
CINNAMON WHICH YOU MIGHT BE NOT KNOWING ABOUT"

आप किसी भी रूप में चाहे मसाले की तरह या दालचीनी का पानी पीकर या दालचीनी को दूध के साथ लेकर इसका प्रयोग करें और खुद भी स्वस्थ रहें 
और अपने परिवार को भी इससे लाभान्वित करें। 

यदि जानकारी अच्छी लगी तो लगी तो share जरूर करें।    



No comments:

Post a Comment