"सावधान!अधिक तेज़ी से वजन कम करना न पड़ जाये आपको भारी |SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS"




"सावधान अधिक तेज़ी से वजन कम करना  पड़ जाये आपको भारी /
SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS" 
आजकल की भाग दौड़ और व्यस्त जीवन और junk food की आदत ने बीते वर्षों में मोटापे या Obesity की परेशानी को काफी ज्यादा बढ़ा दिया है। 



हर किसी की चाहत होती है पतला दुबला fit दिखना क्यूंकि मोटापा सिर्फ हमारे व्यक्तित्व को अनाकर्षक बनाता है बल्कि कई बिमारियों का कारण भी बनता है।

लोगों में अक्सर ये चाहत देखने को मिलती की वो जल्द से जल्द अपने वजन को कम करके आकर्षक दिखने लगें।

इसके लिए वो कई तरह की दवाइयों (pills & suppliments), सर्जरी या dieting (low calorie diet ) करने से भी नहीं हिचकते।

 परन्तु क्या आप यह जानते है की जल्द से जल्द ज्यादा वजन कम करना आप के लिए बहुत नुकसानदायक सिद्ध हो सकता है। 

जी हाँ - ऐसा करना आपके द्वारा कई बीमारियों को आमंत्रण देने के बराबर है। बहुत तेज़ी से वजन  घटाना अपने स्वास्थ्य को खतरे में डालना है।

SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS
SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS



अगर आप नहीं जानते की क्या नुक्सान है बहुत तेज़ी से वजन कम करने का तो हम आज आपको बताते हैं -

"सावधान!अधिक तेज़ी से वजन कम करना पड़ जाये आपको भारी |SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS" 



यदि हम बहुत तेजी से अपने वजन को कम करते हैं चाहे डाइटिंग/ dieting  के द्वारा ,या किसी तरह की दवाइयां /pills  या सप्लीमेंट्स/ suppliments  लेकर या फिर low calorie diet  लेकर ,या फिर बहुत ज्यादा एक्सरसाइज /exercise करके या किसी प्रकार की सर्जरी करवा कर, इन सभी तरीकों से शरीर को कई तरह के नुकसान पहुंच सकते हैं।

जिनमें से मुख्य 3 तरह के नुकसान जो आपको देखने को मिल सकते हैं वो इस प्रकार हैं -

1. शरीर का सामंजस्य बिगड़ना
    (Disturbing the
    Body’s Equilibrium)

2.  ह्रदय संबंधी परेशानियां
      Heart Problems

3. पित्त की थैली में पथरी / Gallstones 


1. शरीर का सामंजस्य बिगड़ना/
   (Disturbing the Body’s 
    Equilibrium) :

यदि किसी भी तरह से हम अपने वजन को बहुत तेजी से घटाते हैं तो हमारा शरीर का सामंजस्य  बिगड़ जाता है और वह अपने आप को व्यवस्थित नहीं कर पाता।

हमारे शरीर की यह विशेषता होती है कि वह खानपान और आदतों व् दिनचर्या के थोड़े बहुत बदलाव को आसानी से झेल लेता है और उसी के अनुरूप अपने को परिवर्तित कर लेता है।

परंतु यदि हम बहुत ज्यादा भूखे रहे ,बहुत ज्यादा व्यायाम करने लगे या फिर इस तरह की दवाइयां का सेवन करने लगे जिनसे जल्दी वजन घटाने में मदद मिलती है या ऐसी कोई सर्जरी करवा दें जिससे हमें भूख कम लगे तो ऐसी situations में हमारा शरीर इतनी जल्दी अपने आप को इन परिवर्तनों के अनुरूप ढाल नहीं पाता।

जिसके फलस्वरुप शरीर में कई प्रकार की इलेक्ट्रोलाइट/ Electrolytes का imbalance देखने को मिलता है खास करके पोटेशियम(Pottasium) और 
मैग्नीशियम (Magnesium) का, जो हमारे शरीर के सुचारू रूप से कार्य करने के लिए 
आवयश्यक होते हैं ,और जिसके फलस्वरूप 
शरीर का सामंजस्य बिगड़ने लगता है 



2.  ह्रदय संबंधी परेशानियां/(Heart 
     Problems) :

Heart failure :SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS
Heart Failure :SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS


अचानक से ज़्यादा weight loss करने सेहमारे शरीर में मौजूद रक्तवाहिनियों या धमनियों / bloodvessels को नुक्सान/ damage हो सकता है। 
जिसके कारण हमारे हृदय गति /heart rate में परिवर्तन,ब्लड प्रेशर (B.P) अनियंत्रित होनाअनियमित heart rhythm आदि के होने से Heart Failure / हार्ट फ़ैल का खतरा बढ़ जाता है 
ऐसे लोगों में। 



3. पित्त की थैली में पथरी 
    (Gallstones) :


Gallbladder:SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS
Gallstones:SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS


कई शोधों में यह पाया गया है कि मोटापे / obesity के कारण पित्त की थैली में पथरी/ gallbladder stones होने के मामले अधिक देखने को मिलते हैं और खास तौर पर औरतों में ऐसा अधिक पाया जाता है।

Research में यह भी पाया गया है कि जिन लोगों के पेट में मोटापा ज़्यादा होता है उनमे पित्त की थैली की पथरी ज़्यादा देखने को मिलती है ,उन लोगों की तुलना में जिनके जांघ या नितम्ब में चर्बी अधिक होती है।

ऐसे Obese / मोटे लोगों का Gall Bladder आकार /size  में बड़ा पाया जाता है परन्तु कम क्रियाशील होता है या ठीक से काम नहीं करता।

साथ ही साथ मोटे  लोगों के Bile में Cholesterol की मात्रा अधिक पायी जाती है।

इसी के साथ  यह भी पाया गया कि बहुत जल्दी या तेज़ी से वजन घटने पर भी पित्त की थैली में पथरी / gallstones की संभावना बढ़ जाती है।

जी हाँ, जब हम बहुत लंबे समय तक खाना नहीं खाते या तेजी से वजन घटाते हैं तब हमारा लीवर/ liver, bile में अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रॉल / cholesterol का स्त्राव करने लगता है। 

साथ ही साथ अचानक से वजन कम होने की स्तिथि में गॉल ब्लैडर / gallbladder  अपना काम सही से नहीं कर पाता, फलस्वरूप  पित्त / bile  को ठीक से खाली नहीं कर पता और अधिक मात्रा में मौजूद कोलेस्ट्रॉल / Cholesterol पड़े पड़े घाड़ा होकर पथरी या stones बनाने लगता है। 


Gallstones;SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS
Gallstones :Side Effects Of Rapid Weight Loss

यदि वजन कम करने के पहले ही मोटापे के कारण पित्त की थैली में पथरीgallstones की परेशानी हो चुकी हो तो ऐसे मरीज़ यदि बहुत तेज़ी से वजन घटाएं चाहे low calorie diet या किसी surgery के द्वारा तो उनमे gallstones के symptoms अधिक दिखने लगते हैं। 

इसलिए दोस्तों यह समझना जरुरी है की मोटापा / obesity अपने आप में कई तरह की बिमारियों के लिए बहुत बड़ा कारण है परन्तु इसे कम करने का एक सही तरीका अपनाना जरुरी है। 

यदि बिना सोचे समझे हम ऐसी low calorie diet , surgery , strainous exercise से बहुत कम समय में बहुत तेज़ी से ज़्यादा वजन कम करने की कोशिश करते हैं तो खुद अपने शरीर को नुक्सान पहुंचाने का काम करते हैं और कई बिमारियों के शिकार बन सकते हैं। 

एक हफ्ते में आधा से एक किलो तक वजन कम करना सही है परन्तु उससे ज़्यादा आपके शरीर के लिए निःसंदेह घातक सिद्ध हो सकता है। 

यह भी पढ़ें:

WEIGHT LOSS WITH WATERMELON DETOX DIET IN HINDI


अगर आप अपना वजन कम करना चाह रहे हैं ,तो  डॉक्टर से परामर्श लें। 

एक balanced diet chart तैयार करें , योग ,व्यायाम की मदद लें,जंक फ़ूड लें, healthy lifestyle अपनाएं ।

और धीरे -धीरे स्थायी रूप से वजन कम करें जिससे की आपके शरीर पर कोई side effects भी पड़ें और आप सुन्दर , छरहरे, fit शरीर के साथ अधिक आकर्षक और स्वस्थ दिख सकें। 

तो अब आप समझ ही गए होंगें क्या खतरे हैं ज्यादा तेज़ी से वजन घटाने के -"सावधान अधिक तेज़ी से वजन कम करना  पड़ जाये आपको भारी |SIDE EFFECTS OF RAPID WEIGHT LOSS"इसलिए समझदारी के साथ अपने वजन की नियंत्रित करें और स्वस्थ रहें!!!!!!!!


              





Share this

Related Posts

Previous
Next Post »